प्रादेशिक

भूमि विवाद को लेकर महिलाओं के बीच हुई मारपीट में पुलिस बनी मुख दर्शक

जनपद एटा के मारहरा थाना क्षेत्र का मीरपूरा गांव का मामला

जनपद एटा के मारहरा थाना क्षेत्र के मीरपुरा गांव का है जहां जमीन पर कब्जा करने को लेकर दो भाइयों और उनके परिवारों में जमकर मारपीट हो गई।बताया जा रहा है कब्जा करने की सूचना पर मारहरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची थी। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की पड़ताल कर ही रही थी।

पुलिस ने एक पक्ष के ऊपर शांति भंग में किया कार्रवाई

अचानक बातों ही बातों में दोनों भाइयों के परिवारों की महिलाएं आपस में भिड़ गई और मारपीट करने लगीं। महिलाओं में जमकर मारपीट हुई मारपीट में दोनों पक्षों को हल्की चोट आई है।बताया जा रहा है जमीन को छोटा भाई अजय बर्षों से जोत रहा था ।लेकिन बडा भाई रामवीर जबरिया ट्रैक्टर लेकर खेत जोतने पहुंचा।जिसको लेकर दोनों भाइयों के परिवारों में विवाद हो गया और जमकर मारपीट हो गई।

मारपीट में चोटिल छोटे भाई की पत्नी अनीता ने बताया कि उसके जेठ रामवीर ने 35 बर्ष पूर्व गांव की ही एक लड़की से लव मैरिज कर ली थी।विवाह से खिन्न ससुर कुंदन सिंह ने अपनी जमीन छोटे बेटे की सेवा से प्रसन्न होकर उसके नाम वसीयत कर दी।उस जमीन को छोटा भाई अजय 25 बर्ष से जोत रहा है।इसी को लेकर विवाद चल रहा है।कई बार पहले भी मारपीट और थाना दरबार हो चुका है। चोटिल महिला ने बताया कि उसी ने सूचना कर पुलिस को बुलाया था ।पुलिस के सामने ही उसके साथ मारपीट की गई ।वमुश्किल पुलिस ने महिला को बचाया है।फिलहाल पुलिस ने रामवीर सहित छ लोगों खिलाफ धारा 147,148,504,506 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

वहीँ पक्ष से ममता का कहना है कि उनके चाचा का नाम अजय है जो कि उनके हिस्से की जमीन पर कब्जा करना चाहता है आए दिन मारपीट भी करता है चाचा दबंग और प्रभावशाली व्यक्ति है इसलिए उनकी कोई सुनवाई नहीं होती। ममता ने आरोप लगाया कि उसके ही ससुर को और पति को पुलिस ने एक पक्षीय कार्रवाई करते हुए बंद कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button